अपने सटीक फैसले और तत्वरित ऐक्शन की वजह से लेडी सिंघम के रुप मे जानी जानें वाली भीनमाल पुलिस उप अधीक्षक सीमा चोपड़ा

अपने सटीक फैसले और तत्वरित ऐक्शन की वजह से लेडी सिंघम के रुप मे जानी जानें वाली भीनमाल पुलिस उप अधीक्षक सीमा चोपड़ा

अपने सटीक फैसले और तत्वरित ऐक्शन की वजह से लेडी सिंघम के रुप मे जानी जानें वाली भीनमाल पुलिस उप अधीक्षक सीमा चोपड़ा



अपने सटीक फैसले और तत्वरित ऐक्शन की वजह से लेडी सिंघम के रुप मे जानी जानें वाली भीनमाल पुलिस उप अधीक्षक सीमा चोपड़ा

 भीनमाल

राजस्थान पुलिस स्थापना दिवस पर विशेष

राजस्थान पुलिस भारत के राजस्थान राज्य की नागरिक सेवा है। राजस्थान पुलिस का ध्येय "अपराधियो में डर, आमजन में विश्वास" है। राजस्थान पुलिस का स्थापना दिवस प्रतिवर्ष 16 अप्रैल को मनाया जाता है। पुलिसकर्मियों का त्याग व बलिदान भुलाया नहीं जा सकता। हर मुसीबत में पुलिस आमजन की रक्षक बनकर आई है। अपराध नियंत्रण, कानून व्यवस्था, सामाजिक समरसता, साम्प्रदायिक सद्भाव से लेकर सेवा के क्षेत्र में पुलिस की भूमिका वाकई महान है।भले ही पुलिस को कई लोग अलग-अलग नजरिए से देखते और सोचते हैं, लेकिन खाकी वर्दी का त्याग सब पर भारी है। पुलिस के पास कहीं संसाधनों की कमी है तो कहीं स्टाफ का टोटा। इसके बावजूद पुलिस अपनी ड्यूटी बखूबी निभा रही है।  पुलिस विभाग में अनेक पुलिसकर्मी अपनी सेवाओं के लिए भी जाने जाते है   आज हम बात करने जा रहे हैं जिनका नाम है सीमा चोपड़ा जो वर्तमान में भीनमाल के पुलिस उप अधीक्षक के पद पर कार्यरत हैं महिला होने के बावजूद भी हर काम में सक्रिय रहते हुए पूरी निष्ठा और ईमानदारी के साथ भीनमाल  का कार्य संभाल रही है

 सीमा चोपड़ा  भीनमाल पुलिस उप अधीक्षक के पद पर 4 जनवरी 2022 को नियुक्त हुई है लेकिन 3 महीनों में जो इनके द्वारा कार्य किया गया है वह पिछले 1 साल में भी नहीं हुआ इनके कार्यकाल के दौरान रामनवमी मकर संक्रांति रमजान जैसे पर्व बड़ी धूमधाम के साथ संपन्न हुए किसी भी प्रकार के दंगे किसी भी प्रकार की कोई ऐसी बड़ी घटना नहीं हुई जिससे  पुलिस की कार्यशैली पर कोई सवाल उठे हो जब से भीनमाल पुलिस अधीक्षक के रूप में आप ने कार्यभार संभाला है तब से भीनमाल  में अपराध भी काफी कम हुआ है आपके द्वारा नशाखोरो के विरुद्ध  अभियान चलाकर समय-समय पर  धरपकड़ की जा रही है चोरी  हत्याकांड लूटपाट जैसी घटनाओं के भी खुलासे किए जा रहे हैं आप महिला होने के बावजूद भी रात को 12:00 बजे फोन करने पर भी आप अपनी तत्परता के साथ घटनास्थल पर पहुंचकर आरोपियों को सलाखों के पीछे भेजने में बिल्कुल भी देरी नहीं करती  आप सन 1997 में पुलिस उप निरीक्षक के रूप में चयनित हुई थी लेकिन आपने अपने कार्यकाल में दबंगता  और  ईमानदारी के साथ कार्य किया जिसके कारण  आपपदोन्नति के साथ डीवाईएसपी की पोस्ट पर तैनात हुई आपको सामाजिक संस्थाओं एवं पुलिस विभाग द्वारा सैकड़ों पुरस्कारों द्वारा सम्मानित भी किया जा चुका है   इससे पहले आप बाड़मेर में पुलिस उप अधीक्षक के पद पर तैनात थी वहां पर भी एक मंडली थाना क्षेत्र के अंतर्गत 7 साल की बालिका के साथ दुष्कर्म के साथ हत्या वाला मामला सामने आया था आपने तुरंत प्रभाव से चालान पेश किया और आरोपी की गिरफ्तारी की जिसमें पुलिस की तत्परता के साथ कोर्ट ने आदेश जारी करते हुए बलात्कारी को आजीवन कारावास की सजा सुनाई उसमें भी आप की महत्वपूर्ण भूमिका रही आप जहां भी रहे आपने हमेशा कमजोर तबके के जो अंतिम पंक्ति में खड़े हुए व्यक्ति को आपने न्याय दिलाने का काम किया आपने महिलाओं पर हो रहे अत्याचारों के लिए उन्हें जागरूक करने के लिए भी  प्रयास किए विशेष अभियान चलाकर महिलाओं के साथ हो रही छेड़छाड़ की घटनाओं पर अंकुश लगाया  आप द्वारा रात्रि में गस्त भी की जाती हैं आप के कार्यकाल में हर पीड़ित परिवार को इंसाफ मिला और भीनमाल की जनता आपके कार्यों से काफी प्रभावित हैं आपको भीनमाल में लेडी सिंघम के रूप में जानते हैं क्योंकि आपका व्यक्तित्व भी बिल्कुल पारदर्शी मृदुभाषी एवं कर्तव्यनिष्ठ है और आपके कार्यों से हर कोई प्रभावित हो जाता है  भीनमाल में पुलिस उप अधीक्षक के रूप में लेडी सिंघम सीमा चोपड़ा की नियुक्ति के बाद अपराधियों में डर और आमजन में विश्वास कायम हो गया है मरुधर आईना की पूरी टीम और जालौर की जनता राजस्थान पुलिस दिवस पर आप को सेल्यूट करती हैं आप इसी तरह अपराधियों की कमर तोड़ती  रहे और पूरे भीनमाल क्षेत्र को अपराधों से मुक्त करें जय हिंद