दिल्ली की हवा सुधारने के लिए-लॉकडाउन या और कुछ 

दिल्ली की हवा सुधारने के लिए-लॉकडाउन या और कुछ 

दिल्ली की हवा सुधारने के लिए-लॉकडाउन या और कुछ 



दिल्ली की हवा सुधारने के लिए-लॉकडाउन या और कुछ 

दिल्ली की दिन-पर-दिन जहरीली होती हवा को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने सरकार को लताड़ा है। जस्टिस एनवी रमना वायु प्रदूषण के मुद्दे पर दिल्ली में  एक याचिका पर सुनवाई कर रहे थे,सरकार को फटकार लगाते कहा कि हालात कितने गंभीर हैं। प्रशासन से कदम उठाने को कहा है।जैसे- वाहनों को रोकना और दिल्ली में लॉकडाउन लगाना। सुप्रीम कोर्ट ने स्कूलों के खोले जाने पर भी सवाल उठाया है। आपको इमरजेंसी प्लान लाना चाहिए। आप बताइए कि क्या इमरजेंसी उपाय करने के लिए आपकी क्या योजना है? दो दिन का लॉकडाउन? 

सुप्रीम कोर्ट और सरकार के बीच विवाद
सरकार पक्ष रख रहे सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कहा -हम ऐसा नहीं कह रहे हैं, कि सिर्फ किसान जिम्मेदार हैं,इस प्रदूषण के लिए|तुषार मेहता ने कहा, हम धूल को रोकने के लिए कदम उठा रहे हैं।यह  मिली-जुली जिम्मेदारी है।राज्य सरकारों की भी जिम्मेदारी है। मैं चाहूंगा कि सरकारें भी एफिडेविट फाइल करें।