जिले में सभी पात्र लोगों तक पहुंचे योजनाओं  का लाभ- बीसूका उपाध्यक्ष




जिले में सभी पात्र लोगों तक पहुंचे योजनाओं  का लाभ- बीसूका उपाध्यक्ष

चित्तौड़गढ़
बीस सूत्री कार्यक्रम क्रियान्वयन एवं समन्वय समिति के उपाध्यक्ष डॉ. चंद्रभान एक दिवसीय दौरे पर चित्तौड़गढ़ पहुंचे। यहां उन्होंने जिला परिषद के ग्रामीण विकास अभिकरण सभागार में जिला स्तरीय अधिकारियों की बैठक लेकर बीस सूत्री कार्यक्रम के क्रियान्वयन और राज्य सरकार की फ्लैगशिप योजनाओं की समीक्षा की। बैठक में बीसूका उपाध्यक्ष ने सभी जिला स्तरीय अधिकारियों से कहा कि जिले में हर एक पात्र को विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ दिलवाकर योजना में शत-प्रतिशत प्रगति सुनिश्चित करें। डॉ. चंद्रभान ने कहा कि सभी योजनाओं का अधिकतम प्रचार-प्रसार करें व अंतिम व्यक्ति तक योजनाओं का लाभ पहुंचाएं।
बीसूका उपाध्यक्ष ने जिले के समावेशी विकास के लिए एवं गरीब, गैर बराबरी व बेरोजगारी कम करने के लिए अधिकतम प्रयास करने की बात कही। बीसूका उपाध्यक्ष ने मनरेगा कार्यों की समीक्षा करते हुए रोजगार दिवस के सृजन सहित अन्य मुद्दों की जानकारी ली। चित्तौड़गढ़ के दौरे पर आए चंद्रभान ने कहा, केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार को जिन राष्ट्रीय मुद्दों पर काम करना चाहिए जैसे विकास के कार्य हों, अर्थव्यवस्था के कार्य, बेरोजगारी, गरीबी, महंगाई उन पर कार्य ना करके इन चीजों पर ज्यादा ध्यान दे रहे हैं। एक तो राजनीतिक में यह विभाजनकारी नीति लेकर आए हैं। एक तरफ तो यह कहते हैं कि देश में सब को एक होना चाहिए और दूसरी तरफ सांप्रदायिकता का माहौल खराब कर रहे हैं। इससे देश में विभाजन की स्थिति बन रही है। उन्होंने कहा कि विरोधियों के दल को कमजोर करने के लिए सरकारी एजेंसियों का दुरुपयोग कर रहे हैं। हम इसका जनतांत्रिक तरीके से विरोध कर रहे हैं।

 उन्होंने राजीविका मिशन, श्रम विभाग, राष्ट्रीय खाद्य सूचना अधिनियम, प्रधानमंत्री आवास योजना, जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग, चिकित्सा विभाग, अनुसूचित जाति/जनजाति, अल्पसंख्यक एवं अन्य पिछड़ा वर्ग कल्याण, महिला एवं बाल विकास विभाग, नगर परिषद, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग, सार्वजनिक निर्माण विभाग, अजमेर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड विभाग की प्रगति की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को शत-प्रतिशत लक्ष्य अर्जित करने के निर्देश दिए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि जो भी प्रगति के आंकडें भेजें उन्हें पहले अच्छी तरह से जांच ले एवं जिला कलक्टर को बताकर ही भिजवाएं, ताकि प्रगति के आंकड़ों में भिन्नता न आए। उन्होंने कहा कि गरीबों के उत्थान के लिए राज्य सरकार ने विभिन्न योजनाएं लागू की है इन योजनाओं का सफलतापूर्वक संचालित करना बेहद जरूरी है। ताकि आमजन को इन योजनाओं का ज्यादा से ज्यादा लाभ मिल सके।
बीसूका उपाध्यक्ष ने बैठक में मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना, शुद्ध के लिए युद्ध अभियान, निरोगी राजस्थान अभियान, मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना, मुख्यमंत्री निशुल्क जांच योजना, घर-घर औषधि योजना, राजस्थान सिलिकोसिस नीति 2019, मुख्यमंत्री वृद्धजन सम्मान पेंशन योजना, इंदिरा रसोई योजना, मुख्यमंत्री विशेष योग्यजन सम्मान पेंशन योजना, पालनहार योजना, एक रुपए किलो गेहूं, महात्मा गांधी राजकीय अंग्रेजी माध्यम विद्यालय, देवनारायण छात्रा स्कूटी योजना, काली बाई भील मेधावी छात्रा स्कूटी योजना, राजस्थान कृषि प्रसंस्करण, व्यवसाय एवं कृषि निर्यात प्रोत्साहन योजना, मुख्यमंत्री किसान मित्र ऊर्जा योजना, मुख्यमंत्री कन्यादान योजना, मुख्यमंत्री एकल नारी सम्मान पेंशन योजना, मुख्यमंत्री युवा संबल योजना, इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना, मुख्यमंत्री लघु उद्योग प्रोत्साहन योजना, एमएसएमई अधिनियम व प्रमाणीकरण, राजस्थान निवेश प्रोत्साहन योजना 2019, जन सूचना पोर्टल, राजस्थान जन आधार योजना आदि की प्रगति की अधिकारियों से समीक्षा करते हुए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।
बैठक में जिला कलक्टर अरविंद कुमार पोसवाल ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि वे जो भी प्रगति भेजे उसे पहले अच्छी तरह सुनिश्चित कर ले कि आकड़े सही भेजे जाए। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि वे राज्य सरकार द्वारा संचालित योजनाओं का ज्यादा से ज्यादा प्रचार प्रसार करें ताकि पात्र लोगों को योजनाओं का लाभ मिल सके।
चित्तौड़गढ़ से महेन्द्र धाकड़ की रिपोर्ट